भारत के प्रसिद्ध स्थान – Famous Places in India

Bharat Ke Prasidh Sthan
Bharat Ke Prasidh Sthan

भारत के प्रसिद्ध स्थान और उनकी प्रसिद्धि का कारण

आबू सिंबल

अस्वान बाँध के निकट नील नदी के पास नेमसीज द्वितीय द्वारा चट्टानों को काटकर बनाये गये प्राचीन मंदिरों के कारण यह स्थान जाना जाता है।

अजन्ता व एलोरा

ये गुफायें महाराष्ट्र में औरंगाबाद के निकट है। यहाँ बौद्ध कला की सर्वश्रेष्ठ कतियाँ देखने को मिलती है।

अजमेर

यह राजस्थान का ऐतिहासिक नगर है। यहाँ 12वीं शताब्दी के प्रसिद्ध मुस्लिम सूफी सन्त ख्वाजा मोइन-उद-दीन चिश्ती की दरगाह है।

अकाल तख्त

अमृतसर के स्वर्ण मन्दिर परिसर में यह स्थित है।

अलीबेट

गुजरात राज्य में भावनगर के निकट यहाँ सर्वप्रथम ऑफ शोर तेल निकाला गया था।

इलाहाबाद

उत्तर प्रदेश का पवित्र नगर, जो गंगा, यमुना व सरस्वती के संगम पर बसा है।

अलवाये

केरल का एक नगर जहाँ उर्वरक व मोनाजाइट का उत्पादन होता है।

आमेर

यह राजस्थान में जयपुर के निकट है। यहाँ विशाल किला है।

अमरनाथ

यह जम्मू-कश्मीर राज्य में पहलगाँव से लगभग 28 मील दूर है। यहाँ रक्षाबन्धन के दिन लोग बर्फ के शिवलिंग के दर्शन करते हैं।

आनन्द

गुजरात राज्य में आनन्द को-ऑपरेटिव मिल्क डेयरी के लिए प्रसिद्ध है।

आनन्दपुर साहिब

यह पंजाब के रोपड़ जिले में है जहाँ पर सिक्खों का पवित्र विशाल गुरुद्वारा है।

औरंगाबाद

यह महाराष्ट्र में स्थित है। यह नगर साड़ियों के लिए प्रसिद्ध है तथा यहाँ पर औरंगजेब का मकबरा भी है।

ओरोविले

यहाँ अरविन्द घोष का आश्रम है। यह पाण्डिचेरी से 19 किमी. उत्तर में है।

आवड़ी

यह तमिलनाडु में है। यहाँ भारी वाहनों के निर्माण का कारखाना है।

अयोध्या

यह एक पवित्र हिन्दू नगरी है। यहाँ भगवान राम का जन्म हुआ था। यह उत्तर प्रदेश में फैजाबाद के निकट है।

अलीगढ़

यह उत्तर प्रदेश में है। यहाँ पर सैय्यद अहमद खाँ ने एम. ए. ओ. कॉलेज की स्थापना की जो 1875 में मुस्लिम विश्वविद्यालय में परिवर्तित हुआ।

अमृतसर

पंजाब का सबसे बड़ा नगर। सिक्खों का पवित्र धर्म स्थल ‘स्वर्ण मंदिर’ यहीं पर है तथा जलियाँवाला बाग भी यहीं पर है।

बेलाडीला

यह छत्तीसगढ़ के बस्तर जिले में है। यहाँ लौह अयस्क पाया जाता है।

बरौनी

यह बिहार में है तथा यहाँ पर तेलशोधक कारखाना है।

बड़ौदा

गुजरात का एक प्रसिद्ध नगर लक्ष्मी विलास महल के लिए प्रसिद्ध है।

भरतपुर

राजस्थान का एक प्रसिद्ध नगर जो घना पक्षी विहार के लिए प्रसिद्ध है।

मिलाई

छत्तीसगढ़ में दुर्ग के पास है। यहाँ सार्वजनिक क्षेत्र का इस्पात का कारखाना है।

भारत भवन

यह भोपाल में स्थित मध्य प्रदेश सरकार का कला केन्द्र है।

बोधगया

बिहार में स्थित है। यहीं पर भगवान बुद्ध को महाज्ञान प्राप्त हुआ था।

बुलन्द दरवाजा

आगरा के निकट फतेहपुर सीकरी में अकबर ने इसका निर्माण करवाया था। इस दरवाजे की ऊँचाई 176 फीट है जो कि संसार में सबसे ऊँचा है।

चांदीपूर

यह उड़ीसा में है। यहाँ से 22 मई, 1989 को भारत के मध्यम दूरी के प्रथम पक्षपाख ‘अग्नि’ का सफल प्रक्षेपण किया गया।

चित्तौड़गढ़

यह राजस्थान में है। यहाँ पर राणा कुम्भा द्वारा बनवाया गया विजय स्तम्भ है।

कार्बट पार्क

पार्क जिम काबट पार्क नाम से स्थापित किया गया था. यह उत्तराखंड में है।

डांडी

गुजरात का एक स्थान जहाँ महात्मा गाँधी ने ऐतिहासिक नमक सत्याग्रह चलाया।

गाजीपुर

उत्तर प्रदेश का एक जिला मुख्यालय जहाँ अफीम का उत्पादन होता है।

गोल गुम्बज

बीजापुर (कर्नाटक) में स्थित यह विश्व का सबसे बड़ा गुम्बज है।

नालन्दा

यह स्थान बिहार में है और बौद्ध मंदिरों व विश्वविद्यालय के लिए जाना जाता है।

न्हावाशेवा

मुम्बई के निकट निर्माणाधीन एक बड़ा बन्दरगाह है।

निर्मल हृदय

कोलकाता में कालीघाट में स्थित मदर टेरेसा का आश्रम है।

पोखरन

राजस्थान में जैसलमेर जिले में स्थित है।

सांभर

राजस्थान की एक झील है, जिससे नमक निकाला जाता है।

राजघाट

दिल्ली में यमुना नदी के तट पर स्थित वह स्थान जहाँ महात्मा गाँधी का अंतिम संस्कार किया गया था।

सहार

यह मुम्बई का अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा है। शान्ताज हवाई अड्डे का विस्तार कर इस बनाया गया है।

शान्ति निकेतन

कोलकाता में स्थित विश्व भारती विश्वविद्यालय है। इसकी स्थापना गुरुदेव रवीन्द्र नाथ टैगोर ने की थी।

सारनाथ

वाराणसी के निकट स्थित सारनाथ बौद्ध तीर्थ स्थल है। यहाँ पर अशोक स्तम्भ है तथा गौतम बुद्ध ने अपना पहला प्रवचन यहीं पर दिया था।

श्रवणबेलगोला

यह कर्नाटक में है। यहीं ग्रेनाइट पत्थर की 57.5 फीट ऊँची बाहुबली की विशाल मूर्ति है।

श्री हरिकोटा

यह आन्ध प्रदेश में है। यहाँ से 25 फरवरी, 1988 को 250 किमी. परास बाली मिसाइल पृथ्वी का सफल परीक्षण किया था।

थुम्बा

यह केरल राज्य में है। यहाँ रॉकेट प्रक्षेपण केन्द्र है।

विक्टोरिया मेमोरियल

ब्रिटेन की महारानी विक्टोरिया की याद में यह कोलकाता में बनाया गया था। यहाँ एक आर्ट गैलरी भी है।

विवेकानन्द रॉक

भारत के दक्षिणी समुद पर कन्याकुमारी के पास स्थित है। इसका नाम स्वामी विवेकानन्द की स्मृति में रखा गया है।

हल्दिया

प. बंगाल में स्थित है। यहाँ रूमानिया व फ्रांस के सहयोग से बना विशाल तेलशोधक कारखाना है।

कलपक्कम्चे

न्नई से 50 किमी. दूर कलपक्कम में 50 मेगावाट का प्रायोगिक फ्रास्ट ब्रीडर रिएक्टर है।

विशाखापट्टनम

यह आन्ध्र प्रदेश में स्थित है। भारतीय पूर्वी समुद्र तट पर स्थित बन्दरगाह और पानी के जहाज बनाने का स्थान ।

खजुराहो

यह मध्य प्रदेश में है और मध्ययुगीन हिन्दू-गन्दिरों के लिए प्रसिद्ध है।

वर्धा

यह महाराष्ट्र में स्थित है। महात्मा गांधी यहाँ बहुत दिन रहे। यह वस्त्र उद्योग का केन्द्र है।

बालासोर

ओडिशा में स्थित इस नगर में प्रक्षेपास्त्र परीक्षण केन्द्र बन रहा है।

करवार

कर्नाटक में करवार में भारत का सबसे बड़ा नौसैनिक अङ्खा बनाया जा रहा है।

द्वारका

गुजरात के सौराष्ट्र क्षेत्र में स्थित द्वारका भगवान श्रीकृष्ण की नगरी कही जाती है। यहाँ प्राचीनकाल का बन्दरगाह एवं सर्वाधिक प्रसिद्ध द्वारकाधीश मन्दिर पर्यटकों का प्रमुख आकर्षण केन्द्र है।

शिलांग

‘मेघों की धरती’ के नाम से प्रसिद्ध मेघालय की राजधानी शिलांग जो पूर्व का स्कॉटलैण्ड कहलाता है। विश्व का सर्वाधिक वर्षा वाला स्थान मासिनराम (चेरापूंजी) भी यहीं है।

कांचीपुरम

तमिलनाडु का यह ‘स्वर्ण नगर’ एवं ‘हजार मन्दिरों का शहर’ कहलाता है।

कन्याकुमारी

भारत के दक्षिणतम छोर पर स्थित कन्याकुमारी तमिलनाडु में स्थित है। यह अरब सागर हिन्द महासागर एवं बंगाल की खाड़ी का संगम स्थल है। कन्याकुमारी मन्दिर गाँधी स्मारक आदि दर्शनीय स्थल हैं।

ऊटी

नीलगिरि की पहाड़ियों पर बसा ऊटी तमिलनाडु का प्रसिद्ध पर्वतीय पर्यटक स्थल है।

पंचमही

यह मध्य प्रदेश का खूबसूरत पर्वतीय पर्यटन स्थल है जो पंचमढ़ी सतपुड़ा की पहाड़ियों पर बसा है।

सोमनाथ

गुजरात में स्थित चन्द्रदेव द्वारा निर्मित सोमनाथ मन्दिर अपनी ऐतिहासिक प्रसिद्धि एवं शिव के बारह ज्योर्तिलिंग के कारण प्रसिद्ध है।

बेलूर मठ

स्वामी विवेकानन्द द्वारा जनवरी 1899 ई. में स्थापित यह मठ उत्तरी कलकत्ता के बेलूर में गंगा नदी के किनारे अवस्थित है।

दार्जिलिंग

यह प. बंगाल का एक पर्वतीय पर्यटन स्थल है। यहाँ विश्व का सबसे ऊंचा रेलवे स्टेशन तथा विश्व धरोहर ‘हिमालय क्वीन’ भाप इजन सर्वाधिक लोकप्रिय है।

Related Post