विज्ञान (Vigyan) – विज्ञान के जनक, परिभाषा – Science

विज्ञान (Vigyan – Science): ज्ञान के क्रमबद्ध तरीके से अध्ययन को ही विज्ञान (Science) कहते हैं। वस्तुओं के इस अध्ययन को क्रमबद्ध तरीके से अध्ययन किया जाता है और तथ्य इक्कठे किये जाते है इन तथ्यों के आधार पर ही वस्तु के गुण और प्रकृति का पता लगाया जाता है।

Vigyan - Vigyan Ke Janak, Paribhasha
विज्ञान

विज्ञान की परिभाषा (Vigyan Ki Paribhasha)

प्रकृति में उपस्थित वस्तुओं के क्रमबद्ध अध्ययन से ज्ञान प्राप्त करने और उस ज्ञान के आधार पर वस्तु की प्रकृति और व्यवहार जैसे गुणों का पता लगाने को ही विज्ञान कहते है।

अन्य शब्दों में Vigyan की परिभाषा

विज्ञान शब्द का संधि विच्छेद वि + ज्ञान है, जिसका अर्थ है विशेष ज्ञान। विज्ञान को अङ्ग्रेज़ी में Science कहते हैं; Science शब्द की व्युत्पत्ति लैटिन भाषा के शब्द scire से हुई है जिसका अर्थ है ‘जानना‘ (to know)।

Vigyan Ka Vargikaran
वर्गीकरण

विज्ञान का क्षेत्र अत्यंत विशाल है। Vigyan को कई शाखाओं में बांटा गया है जैसे भौतिक विज्ञानजीव विज्ञानरसायन विज्ञान, वनस्पति विज्ञान, भूगर्भ विज्ञान, खगोलीय विज्ञान, भूगोल विज्ञान, कम्प्यूटर विज्ञान इत्यादि। जैसे-जैसे मनुष्य का ज्ञान विकसित हो रहा है, वैसे-वैसे Vigyan के नए क्षेत्र विकसित हो रहे हैं। इस प्रकार व्यक्ति के ज्ञान से मनुष्य का गहरा संबंध है।

जीव विज्ञान (biology)

विज्ञान की वह शाखा जिसमे जीवों के बारे में अध्ययन किया जाता है , उस विज्ञान की शाखा को ही जीव विज्ञान कहते है। इसमें सजीवो के शरीर की बनावट , कार्य प्रणाली , प्रत्येक अंग की जानकारी तथा कार्य इत्यादि का कार्य इस जीव विज्ञान शाखा में किया जाता है।

रसायन विज्ञान (chemistry)

विज्ञान की वह शाखा जिसमे पदार्थो की संरचना , पदार्थो के गुण , अलग अलग पदार्थो की आपस में क्रिया आदि का अध्ययन किया जाता है उस शाखा को रसायन विज्ञान कहते है।

इसमें उन कणों , आयन , अणु , परमाणु आदि का अध्ययन किया जाता है जिससे कोई पदार्थ या यौगिक बना होता है , तथा उन पदार्थो के क्या क्या गुण है , उनकी अगर किसी अन्य पदार्थ से क्रिया करवाई जाती है तो परिणाम में क्या पदार्थ बनेगा और इसके गुण क्या क्या होंगे इसका अध्ययन हम रसायन विज्ञान के अंतर्गत करते है।

भौतिक विज्ञान (physics)

विज्ञान की वह शाखा जिसमे पदार्थ के भौतिक गुणों का अध्ययन किया जाता है तथा प्रकृति में उपस्थित विभिन्न प्रकार की ऊर्जाओं का अध्ययन सुव्यवस्थित रूप से किया जाता हो। (भार और द्रव्यमान में अंतर)

भौतिक विज्ञान विभिन्न विषयो पर कार्य करता है जैसे प्रकाश , यान्त्रिकी , ऊष्मा , ध्वनी , बिजली , चुम्बकत्वआदि। इन सभी विषयों पर भौतिक विज्ञान में विस्तार से अध्ययन किया जाता है और इनके गुणों के आधार पर हमारी दैनिक जीवनी में इनको कैसे लाकर जीवन को अधिक सुविधा जनक बनाया जाए इसके बारे में अध्ययन किया जाता है।

Vigyan Ke Janak

Galileo Galilei (गैलीलियो गैलिली) को विज्ञान का जनक कहा जाता है। जिनका जन्म 15 फरवरी 1564 में हुआ था। वो एक इटालियन Astronomer, महान गणितज्ञ और फिलोस्फर थे, उन्होंने विज्ञान के जगत में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। उनकी मृत्यु 8 जनवरी 1642 में हुई थी।

  1. रसायन विज्ञान के जनक:एंटोनी लेवोज़ियर
  2. वनस्पति विज्ञान का जनक: ग्रीक विद्वान थियोफ़्रेस्ट्स
  3. जीव विज्ञान के जनक: अरस्तू
  4. फिजिक्स के जनक(पिता): यह शीर्षक किसी व्यक्ति को नहीं दिया गया है. गैलीलियो गैलीली, सर आइजैक न्यूटन और अल्बर्ट आइंस्टीन सभी को भौतिकी का पिता कहा गया है।
  5. जीवाणु विज्ञान के जनक: डच वैज्ञानिक एण्टनी वॉन ल्यूवोनहूक
  6. चिकित्सा शास्त्र का जनक: हिप्पोक्रेट्स

भौतिक विज्ञान के मुख्य टॉपिक

यहाँ पर हम सामान्य भौतिक विज्ञान (निम्न स्तर) के टॉपिक सम्मिलित कर रहें हैं, यदि आपको उच्च स्तर का भौतिक विज्ञान चाहिए तो आप यहाँ (भौतिक विज्ञान) से उच्च स्तर के भौतिक विज्ञान के सभी टॉपिक देख सकते हैं। सामान्य भौतिक विज्ञान के टॉपिक इस प्रकार हैं-

  1. मापन (Measurement)
  2. गति (Motion)
  3. बल के नियम (Laws of Force)
  4. गति के नियम (Laws of Motion)
  5. गुरुत्वाकर्षण (Gravitation)
  6. ऊष्मा (Heat)
  7. ध्वनि और तरंग गति (Sound and Wave Motion)
  8. प्रकाश (Light)
  9. विद्द्युत (Electricity)
  10. इलेक्ट्रॉनिकी (Electronics)
  11. ऊर्जा के श्रोत (Source of Energy)
  12. खगोलिकी (Astronomy)
  13. नाभिकीय भौतिकी (Nuclear Physics)