भारतीय लोकनृत्य और लोकगीत – List, table

Bharatiya Lok Nritya Aur Lokgeet
Bharatiya Lok Nritya Aur Lokgeet

लोकनृत्य (Folk dance) उन नृत्यों को कहते हैं जिनमें प्राय: निम्न विशेषताएँ पायी जाती हैं- प्राय: ये नृत्य उन्नीसवीं शताब्दी या उसके पहले के हैं जिन्हे पेटेन्ट नहीं कराया गया है। इन नृत्यों का ढ़ंग पारम्परिक होता है न कि किसी एक व्यक्ति द्वारा नवाचार द्वारा सृजित। इसके नृत्यकार आम आदमी होते हैं, न कि समाज के कुलीन वर्ग। इसको नियन्त्रित करने वाली कोई एक संस्था नहीं होती।

Lok Nritya Aur Lokgeet

प्रदेश का नाम लोकनृत्य और लोकगीत
हरियाणा धमाल, घोड़ी नाच, स्वाँग, डंडा नाच ।
हिमाचल प्रदेश नाटी, सांगला, बोयांग्चू, झाँझर, अँगी, घोड़ायी, थाली, छपेली।
मेघालय नौगक्रेम, बंगला, कुशवलीम्मोह, कशव-वस्तिएई।
मिजोरम चेरोकान, पाखुलिया, इखतला।
नागालैण्ड केदोहोह, यचुभि, अकहजी, चोंग, अंगोकगु, गोयायारि, तसंगसंग, नूरालिम, युद्धनृत्य।
असोम बीहू, मॅवरिया, बगुरुम्बा, देवधानी, भाओन, अमरू, माडूभागी, खेल गोपाल माखन लीला, लवल चोंगयी।
मणिपुर बसंत रस (कृष्णलीला से सम्बन्धित), संकीर्तन, राखाल, लाईट्टरीबा नृत्य।
प. बंगाल गंभीरा, काठी, खेमटा, धूप-जारी और मरसिया, राय वेश । (वीरभूम, वर्धमान और मुर्शिदाबाद में प्रचलित), जात्रा।
आंध्र प्रदेश मथुरी, बातकम्पा, कुम्मी डप्पू घण्टा माली, छड़ी नृत्य।
महाराष्ट्र पोवाड़ा, गोधल गीत. ढोलचा, डंडर, गौरीचा, गोफ, दशावतार, फुगड़ी, दिंडी, तमाशा, लैझिम, गणेश चतुर्थी नृत्य।
कर्नाटक. यक्षगान, वीरगास्से, कुनीता कीडवास।
केरल कालारी कायतु, भद्रकाली, थुलाल, पादयानी, थायामबाका, उत्तमतुताल, काईकोट्टिकलि, तपत्तिक्कलि, मोहनीअट्टम, कालीअट्टम, कुटीअट्टम।
ओडिशा छाँऊ, बहका नाता व दण्डा नाता।
तमिलनाडु कोलट्टम, बसन्त, आत्म, कुम्मी, करागम।
पंजाब कीकली, गिद्दा, भाँगड़ा।
जम्मू-कश्मीर चाकरी, भारव गीत, राउफ व हिकात।
राजस्थान कठपुतली, तेराताली, फूंदी नृत्यनाट्य, बीलुआ नृत्यनाट्य, ल्हूर नृत्यनाट्य (झुंझनू के आसपास), गीदड़ नृत्य (शेखावाटी क्षेत्र में), पणघट नृत्य या जेछड़ नृत्य, घूमर नृत्यनाट्य, कच्छी घोड़ी नृत्यनाट्य, पुंगी नृत्यनाट्य ।
गुजरात गरबा नृत्य, डांडिया नृत्य, दीपक नृत्य, पणिहारी नृत्य, मेरराँस नृत्य।
बिहार माघा, विदेशिया, बखो-बखाइन, कर्मा, जातरा, सरहुल, घुमकडिया, पंगारिया।
झारखण्ड जदुर, सरहुल, कर्मा, झाऊ, बेमा, घुमकुडिया, अहंदी।
मध्य प्रदेश नवरानी, दिवारी, गौड़ो, गोन्यो, शूआ, टपाडी, छेरिया।
छत्तीसगढ़ भगोरिया, सैला, कर्मा, सुआ, रहस, राउत।
उत्तर प्रदेश नौटंकी, रासलीला, कजरी, झोरा।।
उत्तराखंड कजरी और करन, चौफुला, कुमायूँ नृत्य।

भारतीय लोकनृत्य और लोकगीत से संबंधित अन्य लेख

Related Post