पौधों में सूक्ष्म जीवों से होने वाली बीमारियाँ एवं बचाव

Paudhon me sookshm jeevon se hone vali beemariyan
Paudhon me sookshm jeevon se hone vali beemariyan

पौधों में सूक्ष्म जीवों से होने वाली बीमारियाँ

जन्तुओ की भांति पौधों में भी सूक्ष्म जीवों द्वारा अनेक रोग हो जाते हैं। जैसे:-

  1. गेहूं की गेरुई – कवक द्वारा
  2. गेहूं का कंडुआ रोग – कवक द्वारा
  3. नीबू का कैकर – जीवाणु द्वारा

सूक्ष्म जीवों से होने वाली बीमारियाँ से बचाव के तरीके

  1. मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया, जापानी ज्वर (जे. ई. जापानी इंसेफलाइटस) एवं एक्यूर इंसेफलाइटस सिंड्रोम (ए. ई. एस.) बीमारी से बचाने के लिए मच्छर रोधी दवाओं का प्रयोग करें एवं गड्डों, खेतों में नीम की खली का प्रयोग करें।
  2. शरीर को अधिक से अधिक ढककर रखें।
  3. घर के आस पास गंदा पानी न इकठ्ठा ना होने दें।
  4. शुध्द जल का प्रयोग करके तथा रोग वाहक (मक्खी, मच्छर) से वचाव और स्वच्छता की आदतों को अपना करके हम हैजा, आमातिसार, पेचिस, पीलिया, आदि रोगों से ग्रसित होने से बच सकते हैं।
  5. व्यक्तिगत स्वच्छता जैसे – स्नान, शरीर की सफाई हाथ को साबुन से धोना खांसी, आने पर लोगों का मुह पर रखना आदि।

Related Post