1 Answer

+1 vote
Deva yadav

परिभाषा 

जहाँ उपमेय पर उपमान का अभेद आरोप किया जाता है  रूपक अलंकार कहलाता है।

उदाहरण

अम्बर पनघट में डुबो रही ताराघट उषा नागरी ।

आकाश रूपी पनघट में उषा रूपी स्त्री तारा रूपी घड़े डुबो रही है । यहाँ आकाश पर पनघट का , उषा पर स्त्री का और तारा पर घड़े का आरोप होने से रूपक अलंकार है।

Related questions

...