Pratham Singh in Fitter Theory
एंगल प्लेट के प्रकार बताइए और समझाइए विस्तार से

1 Answer

+1 vote
Deva yadav

एंगल प्लेट के प्रकार

1.स्थिर एंगल प्लेट (Fixed Angle Plate)

इस प्लेट की दोनों सतहों (Surfaces) के बीच का एंगल फिक्स्ड (90°का) होता है। इसका प्रयोग मार्किंग के समय जॉब को और ऊर्ध्वाधर (Vertical) सहारा देने के लिए किया जाता है ।इसकी एक सतह (Surface) को सर्फेस प्लेट पर क्लैम्प कर देते हैं तथा दूसरी सताह सर्फेस प्लेट के लम्बवत् (90°) हो जाता है। इस लम्बवत् सर्फेस पर जॉब को नेट-बोल्ट की सहायता से कस दिया जाता है,तथा सर्फेस प्लेट पर मार्किंग ब्लॉक तथा हाइट गेज (Height Gauge) आदि को रखकर जॉब पर मार्किंग की जाती है।

2.समायोज्य एंगल प्लेट (Adjustable Angle Plate)

इस प्रकार की एंगल प्लेट में दोनों सर्फेसों (Surfaces)के बीच के कोण (Angle) को किसी भी एंगल पर एडजस्ट (Adjust) किया जा सकता है,इसकी दोनों प्लेटो को बोल्ट के द्वारा जोड़ा जाता है। बोल्ट (Bolt) को ढीला करके दोनों प्लेटो (Plates) के बीच बने एंगल को घटाया-बढ़ाया जा सका है एंगल नापने के लिए प्लेट के फ्रेम (Frame) पर मार्किंग की गई होती है।

3.बॉक्स एंगल प्लेट (Box Angle Plate)

इस कोणीय प्लेट को घन (Cube) के आकर का बनाया जाता है, इसका प्रयोग अन्य एंगल प्लेटों की भाँति किया जाता है। इसकी सभी साइडों (Sides) को एक-दूसरे से ठीक 90°पर बनाया जाता है,जॉब को प्लेट पर सेट करने के बाद मार्किंग के लिए किसी भी साइड में घुमाया (Turn) जा सकता है।Note:- इन प्लेटों में कटे खाँचे (Groove) ‘टी’ बोल्ट (‘Tee’ Bolt) के आकार के होते हैं।

कोणीय प्लेट की सावधानियाँ

  • कोणीय प्लेट को कार्य करने से पहले और बाद में साफ (Clean) करके रखना चाहिए ।
  • इन पर समय-समय पर तेल (Oil)या ग्रीस लगाते रहना चाहिए। जिससे जंग (Rust) ना लगे।
  • इनको गिरने से बचाना चाहिए। गिरने से इनकी यथार्थता (accuracy) समाप्त हो जाएगी।
  • समायोज्य कोणीय प्लेट को कार्य के अनुसार कोण में समायोजित करके इसके नट और बोल्ट को अच्छी तरह से कस (Tight) कर देना चाहिए।

Related questions

Category

Follow Us

Stay updated via social channels

Twitter Instagram LinkedIn Instagram
...